आयुष्मान भारत योजना की पूरी जानकारी 

आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, आयुष्मान भारत योजना भारत सरकार की एक स्वास्थ्य योजना है, जिसका उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों खासकर BPL धारको को हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम मुहैया कराना है। आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत आने वाले सभी परिवार को 5 लाख रुपये तक का कैशरहित स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जा रहा है।

आयुष्मान भारत योजना की पूरी जानकारी   योजना के लाभ और सुविधाए

आयुष्मान भारत योजना से जुडी इन महत्वपूर्ण बातो को जाने-

  1. आयुष्मान भारत योजना को कब लागु किया गया?
  2. आयुष्मान भारत योजना का लाभ कौन ले सकता है?
  3. आयुष्मान भारत योजना के लिए कितना उम्र होना चाहिए.
  4. आयुष्मान भारत योजना ई-कार्ड क्या हैं? 
  5. आयुष्मान भारत योजना कार्ड कहा बनवाये?
  6. आयुष्मान भारत योजना के दो प्रमुख तत्व
  7. आयुष्मान भारत योजना के लाभ क्या क्या हैं?

आयुष्मान भारत योजना को कब लागु किया गया?

आयुष्मान भारत योजना को 1 अप्रैल, 2018 को पूरे भारत मे लागू किया गया था। 2018 के बजट सत्र में वित्त मंत्री अरूण जेटली ने इस योजना की घोषणा की। इस आयुष्मान भारत योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों (BPL धारक) को स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है। आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत आने वाले प्रत्येक परिवार को 5 लाख (पांच लाख ) तक का कैशरहित स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जायेगा

आयुष्मान भारत योजना का लाभ कौन ले सकता है?

आयुष्मान भारत योजना का लाभ, गरीब, वंचित ग्रामीण, शहरी श्रमिक और आर्थिक रूप से बेहद कमजोर शहरी परिवार इस योजना के पात्र हैं। दरअसल, 2011 में की गई सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना (SECC-2011) के डेटाबेस में जिन व्यक्तियों के नाम मौजूद हैं, वे खुद-ब-खुद आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के पात्र हैं। उन्हें ही इसका फायदा मिलेगा।

भारत सरकार द्वारा स्टूडेंटस के लिए निकाले गए योजनाओं को जाने - पढने के लिए क्लिक करें 

आयुष्मान भारत योजना के लिए कितना उम्र होना चाहिए?

आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए परिवार के आकार या उम्र की कोई सीमा तय नहीं की गई है. आयुष्मान भारत योजना के लाभ पूरे देश में कहीं भी लागू करे जा सकते है, और इस योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थी को देश भर के किसी भी सार्वजनिक या निजी अन्तर्गत अस्पताल से कैशलेस (बिना पैसे दिये) लाभ लेने की अनुमति होगी।

आयुष्मान भारत योजना ई-कार्ड क्या हैं? 

आयुष्मान योजना के लिए जरूरी कार्ड को ई-कार्ड कहा जाता है। अगर आप इस योजना के पात्र हैं तो ऐसे में अपने परिवार के सभी सदस्यों का ‘ई-कार्ड’ जरूर बनवा लें।

आयुष्मान भारत योजना कार्ड कहा बनवाये?

आयुष्मान भारत योजना कार्ड आप अपने नजदीकी किसी भी रजिस्टर्ड सरकारी या प्राइवेट अस्पताल या कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) जाकर बनवा सकते हैं। रजिस्टर्ड सरकारी या प्राइवेट अस्पताल की लिस्ट वेबसाइट pmjay.gov.in पर देख सकते हैं।

आयुष्मान भारत योजना में दो प्रमुख तत्व शामिल हैं।

1) राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना

  • आयुष्मान भारत-राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना, जो 10 करोड़ गरीब और कमजोर परिवारों (लगभग 50 करोड़ लाभार्थियों) को कवर करेगी। 
  • वह हर परिवार के लिये, प्रति वर्ष 5 लाख रुपये के मुल्य के लिए माध्यमिक और तृतीयक स्थर पर अस्पताल मे देखभाल के लिये कवरेज प्रदान करती है।
  • आयुष्मान भारत योजना के लाभ पूरे देश में कहीं भी लागू करे जा सकते है, और इस योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थी को देश भर के किसी भी सार्वजनिक या निजी अन्तर्गत अस्पताल से कैशलेस (बिना पैसे दिये) लाभ लेने की अनुमति होगी।
  • एस.ई.सी.सी डेटाबेस में दिए गए मानदंड के आधार पर तय होगा की किसे आयुष्मान भारत का लाभ उठाने का हक है। 
  • यह लगभग 10.74 करोड़ गरीब, वंचित ग्रामीण परिवारों और विस्तृत शहरी कर्मचारियों के परिवारों को लक्षित करेगा।
  • यह परिवार एस.ई.सी.सी डेटाबेस, जिसमे गांवों और शहरों दोनो के ङेटा शामिल हैं, के मुताबिक तय होंगे।
  • यह लगभग सभी माध्यमिक और कई तृतीयक अस्पतालों को कवर करता है (एक नकारात्मक सूची को छोड कर )

2) कल्याण केंद्र

  • स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र में प्रदान की जाने वाली सेवाओं की सूची में शामिल हैं:
  • गर्भावस्था देखभाल और मातृ स्वास्थ्य सेवाएं
  • नवजात और शिशु स्वास्थ्य सेवाएं
  • बाल स्वास्थ्य
  • जीर्ण संक्रामक रोग
  • गैर संक्रामक रोग
  • मानसिक बीमारी का प्रबंधन
  • दांतों की देखभाल
  • बुजुर्ग के लिए आपातकालीन चिकित्सा 

आयुष्मान भारत योजना के तहत किन-किन सुविधाओ में लाभ दिया जाता हैं:-

आयुष्मान भारत योजना (पीएम-जय) विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य आश्वासन योजना मानी जा रही है, आयुष्मान भारत योजना का उद्देश्य प्रति परिवार को प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक का मुफ़्त इलाज माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य सेवाओं को उपलब्ध कराना हैं, AAYUSHMAN BHARAT YOJNA  के तहत निम्न सुविधाओ को मुहैया कराया जाता हैं-

  • अस्पताल में भर्ती से पहले ख़र्चा
  • चिकित्सिक परीक्षा, उपचार और परामर्श
  • दवाइयाँ और चिकित्सा उपभोग्य के खर्चे 
  • गहन और गैर-गहन स्वास्थ्य सेवाओ में लाभ 
  • Clinical  और प्रयोगशाला जांच में आयी खर्च 
  • चिकित्सा आरोपण सेवाएं (जहां आवश्यक हो)
  • अस्पताल में मरीज के रहने का ख़र्चा
  • अस्पताल इलाज के दौरान में खाने का ख़र्चा
  • अस्पताल में भर्ती होने के बाद 15 दिनों तक की देखभाल
  • उपचार के दौरान उत्पन्न होने वाली जटिलताएँ और उन्हें सुलझाने में 

Active Study Educational WhatsApp Group Link in India
Share-

Copyright © रोजगार सहायता: Rojgar Sahayta